Warning: Attempt to read property "wordpress_plugin_tracking_enabled" on null in /home/u445277496/domains/jeetubhaiya.in/public_html/wp-content/plugins/surecart/app/src/WordPress/Assets/AssetsService.php on line 104
Tulip Flower in Hindi - ट्यूलिप फूल की जानकारी - Jeetu bhaiya
tulip flower meaning in Hindi

Tulip Flower in Hindi – ट्यूलिप फूल की जानकारी

Rate this post

200 आज की हिसार कल के माध्यम से हम सभी जानेंगे टयूलिप फूल के बारे में और पौधा कैसे लगाना है उसके बारे में भी जानेंगे आपसे अनुरोध यही रहेगा कि आप आर्टिकल को लास्ट तक जरूर पढ़ें और ट्यूलिप फूल के बारे में जाने और पौधा कैसे लगाएं उसके बारे में विस्तार पूर्वक से जाने और ट्यूलिप की कहानी भी जानेंगे आइए शुरू करते हैं

Tulip flower meaning in Hindi

ट्यूलिप फूल का हिंदी मतलब कंद पुष्प होता है आपको बता दें यह फूल देखने में बहुत ही खूबसूरत होता है इसे आप अपने माता-पिता भाई-बहन या प्यार करने वाले व्यक्ति या अन्य लोगों को जिनको आप अच्छे तरीके से जानते हैं या प्रेम करते हैं उन्हें दे सकते हैं यह फूल गहरे प्यार को दर्शाता है।

Tulip flower के बारे में और पौधे की जानकारी

ट्यूलिप फूल देखने में बहुत ही खूबसूरत होता है इसकी कई सारी प्रजातियां पाई जाती हैं लगभग 4000 पौधों का वर्णन किया गया है इसकी पैदावार तुर्की चीन जापान साइबेरिया भूमध्य सागर कश्मीर आदि क्षेत्रों पर पाया जाता है इसकी पैदावार अत्यधिक हिमालय क्षेत्रों में ज्यादा होती है क्योंकि इस पौधे को अत्यधिक एवं मिनिमम ठंड की आवश्यकता पड़ती है |

यदि आप भारत में उगाना चाहते हैं तो आप शरद ऋतु में इसकी खेती कर सकते हैं ट्यूलिप के पौधे को 15 से 54 ईसवी में आस्ट्रेलिया से और 15 से 71 ईसवी में हालैंड और 1577 में इंग्लैंड ले गया गया था इस पौधे में 5 से 7 पंखुड़ियां होती हैं और ट्यूबली के प्रत्येक पौधे पर लगभग 3 से 7 पत्तियां पाई जाती है इसका पौधा हरा रंग का होता है \

इसकी लंबाई की बात करें तो 6 इंच से 2 फुट तक होती है। इसके कई प्रकार के रंग पाए जाते हैं जैसे के गुलाबी रंग सफेद रंग पीला रंग बैगनी रंग लाल रंग इनके मतलब के बारे में जाने तो गुलाबी रंग का मतलब आत्मविश्वास और खुशी का प्रतीक माना जाता है और सफेद रंग माफी का प्रतीक माना जाता है और पीला रंग सकारात्मक सोच का एवं ऊर्जा का प्रतीक माना जाता है बैगनी रंग वफादारी का प्रतीक माना जाता है और लाल रंग एक गहरे प्रेम का प्रतीक माना जाता हैइस पौधे की सुंदरता अधिक होने के साथ-साथ एक प्रेम को दर्शाता है उसकी कहानी हम नीचे सुनाते हैं।

ट्यूलिप फूल की कहानी

यह कहानी आपको बहुत अच्छी लगेगी मुझे यह विश्वास है यह कहानी दो प्रेमियों की है दो प्रेमी एक दूसरे से अत्यधिक प्रेम करते थे यह कहानी कथा लोक टयूलिप फारसी और तुर्की की विनती यों से जुड़ा हुआ है कहानी के किरदार का नाम फरहाद और शिरीन नाम दो व्यक्तियों का है कहते हैं इनकी प्यार की कहानी एक मिसाल से कम नहीं है। आइए शुरू करते हैं

फरहाद नाम का एक राजकुमार रहता था वह एक लड़की से प्रेम करता था जिसका नाम सीरीन था दोनों में अत्यधिक प्रेम था शिरीन भी फरहाद से अत्यधिक प्रेम करती थी वह हमेशा आपस में मिलते रहते थे और एक समय फरहाद के दुश्मनों ने उसे संदेश भेजा कि हमने शिरीन को खत्म कर दिया है फरहाद अत्यधिक क्रोध होता है और आनन-फानन शिरीन के गांव की तरफ निकल पड़ता है जब शिरीन के गांव पहुंचता है तो घर पर उसके पिताजी और शिरीन रहते हैं शिरीन जिंदा रहती है |

लेकिन वहां पर शिरीन के पिताजी ने फरहाद से मिलने नहीं दिया क्योंकि फरहाद को उनके पिताजी पसंद नहीं करते थे इसी के चलते श्री ने आत्महत्या कर ली आत्महत्या करते समय जो खून नीचे गिरा उसी खून से ट्यूलिप फ्लावर की उत्पन्न हुई कहते हैं कुछ समय बाद इस पौधे का उत्पन्न होता है इसलिए इस पौधे को गहरे प्यार का प्रतीक माना जाता हैं।

ट्यूलिप का पौधा कैसे लगाएं

  • ट्यूलिप का पौधा लगाने के लिए आपको उपजाऊ मिट्टी का प्रयोग करना है आप अपने नजदीकी बगीचा से या आप वर्मी कंपोस्ट या पुरानी गोबर को मिट्टी में मिला कर एक गमले में भरकर तैयार कर सकते हैं।
  • गमले मैं नीचे छेद रखें ताकि गमले पर पानी डालें तो पानी निकल जाए अन्यथा आप का पौधा सड़ जाएगा।
  • इसके साथ साथ बल्ब लगाने के बाद मिट्टी को अच्छी तरीके से दबा दें और गमले में हवा ना रह जाए गमले में बल्ब खराब हो सकते हैं गमले की मिट्टी में हवा रह जाती है तो आप के पौधे पर फंगस लगने की उम्मीद ज्यादा बढ़ जाते हैं।
  • इस पौधे को ज्यादा धूप ना दें और शरद ऋतु में लगाएं तो बहुत जल्दी इसे उत्पन्न कर लेंगे और हल्की छाया जरूर रखें और इसे समय-समय पर पानी देते रहें 10 से 15 दिनों के पश्चात आप का पौधा दिखने लग जाएगा।
  • उगाने की प्रक्रिया आपके ऊपर निर्भर करती है आपने किस प्रकार की मिट्टी एवं खाद्य का उपयोग किया हुआ।

सारांश

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम सभी ने जाना इमली का पौधा कैसे लगाएं एवं पौधे के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी के साथ-साथ फूल के बारे में भी जाना आशा करता हूं आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो अपने दोस्तों एवं सहपाठियों को जरूर शेयर करें धन्यवाद

ये भी पढ़े

SHO का फुल फॉर्म, सैलेरी, कैसे बने

भारत के शिक्षा मंत्री कौन है

एनसीआर का फुल फॉर्म

बादल का फुल फॉर्म

समुद्र का पर्यायवाची शब्द क्या है?

पक्षी का पर्यायवाची शब्द क्या है?

KGF full form in hindi

ट्रांसजेंडर क्या होता है और कैसे Transgender meaning in hindi

FAQs: Tulip Flower in Hindi

ट्यूलिप का वैज्ञानिक नाम क्या है?

ट्यूलिप का वैज्ञानिक नाम Tulipa gesneriana.

Tulip फूल का हिंदी में क्या नाम है?

ट्यूलिप फूल का हिंदी में (कंद-पुष्प) नाम है |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *