15 अगस्त की शायरी हिंदी में

15 august ki shayari hindi me – स्वतंत्रता दिवस पर शायरी

आजादी का अमृत महोत्सव पर शायरी | आजादी का अमृत महोत्सव पर पोस्टर | देशभक्ति शायरी

15 august ki shayari hindi me: दोस्तों आज के इस शुभ अवसर पर हम आपके लिए कुछ महत्वपूर्ण शायरियां आपके लिए लाए हैं 15 अगस्त भारत की आजादी के पूर्ण स्वतंत्रता मिलने के बाद मनाई जाती है हर 15 अगस्त को अंग्रेजों की हुकूमत से आजादी मिली इसलिए हम 15 अगस्त मनाते हैं और सभी भारतीय नागरिक पूर्व जोश एवं खुशहाली से 15 अगस्त को एक त्यौहार के रूप में मनाते हैं और सभी स्वतंत्रता सेनानियों को याद करते हैं ।

जिन्होंने भारत की आजादी में अपनी जानकी निछावर दी हंसते हंसते उन सभी देश प्रेमियों को हमारा शत-शत नमन एवं उनके लिए कुछ शायरियां लाए हैं आइए साथ मिलकर पढ़ते हैं और स्वतंत्र दिवस शायरी मराठी में और 15 अगस्त की शायरी हिंदी स्वतंत्रता दिवस पर शायरी और गजल उर्दू भाषा में और स्वतंत्रता दिवस पर शायरी हर एक भारतीय के लिए स्वतंत्र जीवन सभी के लिए महत्वपूर्ण है अभी बलिदानों को याद करते हैं इन शायरियों के माध्यम से-

देश भक्ति शायरी 2023

जमाने में मिलते हैं, आशिक कई
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता
नोटों में लिपट कर सोने में सिमटकर नोटों में लिपट कर सोने में सिमटकर मरे हैं कई
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता

jamaane mein milate hain aashik kaee magar vatan se khoobasoorat koee sanam nahin hota noton mein lipat kar sone mein simatakar noton mein lipat kar sone mein simatakar mare hain kaee magar tirange se khoobasoorat koee kafan nahin hota

देशभक्ति शायरी

मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ

main bhaarat baras ka haradam amit sammaan karata hoon
yahaan kee chaandanee mittee ka hee gunagaan karata hoon
mujhe chinta nahin hai svarg jaakar moksh paane kee
tiranga ho kafan mera, bas yahee aramaan rakhata hoon

काश मेरी जिंदगी मे सरहद की कोइ शाम आए
मेरी जिंदगी मेरे वतन के काम आए
ना खौफ है मौत का ना आरजु है जन्नत की
लेकीन जब कभी जीक्र हो शहीदो का
काश मेरा भी नाम आए।। काश मेरा भी नाम आए

kaash meree jindagee me sarahad kee koi shaam aae
meree jindagee mere vatan ke kaam aae
na khauph hai maut ka na aaraju hai jannat kee
lekeen jab kabhee jeekr ho shaheedo ka
kaash mera bhee naam aae.. kaash mera bhee naam aae

ना मरो सनम बेवफा के लिए
दो गज़ जमीन नहीं मिलेगी दफ़न होने के लिए
मरना हैं तो मरो वतन के लिए
हसीना भी दुप्पट्टा उतार देगी तेरे कफ़न के लिए

देश भक्ति शायरी 2023

na maro sanam bevapha ke lie
do gaz jameen nahin milegee dafan hone ke lie
marana hain to maro vatan ke lie
haseena bhee duppatta utaar degee tere kafan ke lie

15 अगस्त की देशभक्ति शायरी attitude

ये बात हवाओ को बताये रखना
रोशनी होगी चिरागों को जलाये रखना
लहू देकर जिसकी हिफाजत हमने की
ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना

ye baat havao ko bataaye rakhana
roshanee hogee chiraagon ko jalaaye rakhana
lahoo dekar jisakee hiphaajat hamane kee
aise tirange ko sada dil mein basaaye rakhana

desh bhakti shayari

न रंग का नही वस्त्र, ये ध्वज देश की शान हैं
हर भारतीय के दिलो का स्वाभिमान हैं
यही है गंगा, यही हैं हिमालय, यही हिन्द की जान हैं
और तीन रंगों में रंगा हुआ ये अपना हिन्दुस्तान हैं

na rang ka nahee vastr, ye dhvaj desh kee shaan hain
har bhaarateey ke dilo ka svaabhimaan hain
yahee hai ganga, yahee hain himaalay, yahee hind kee jaan hain
aur teen rangon mein ranga hua ye apana hindustaan hain

चिंगारी आजादी की सुलगी मेरे जश्न में हैं
इन्कलाब की ज्वालाएं लिपटी मेरे बदन में हैं
मौत जहाँ जन्नत हो ये बात मेरे वतन में हैं
कुर्बानी का जज्बा जिन्दा मेरे कफन में हैं

chingaaree aajaadee kee sulagee mere jashn mein hain
inkalaab kee jvaalaen lipatee mere badan mein hain
maut jahaan jannat ho ye baat mere vatan mein hain
kurbaanee ka jajba jinda mere kaphan mein hain

Best 15 August Shayari Wishes | Desh Bhakti Shayari

सदा ही लहराता रहे ये तिरंगा हमारा
सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा

sada hee laharaata rahe ye tiranga hamaara
saare jahaan se achchha hindustaan hamaarav

यह दिन है अभिमान का, है माता के मान का
नहीं जाएगा रक्त व्यर्थ, वीरों के बलिदान का

yah din hai abhimaan ka, hai maata ke maan ka
nahin jaega rakt vyarth, veeron ke balidaan ka

वो तिरंगे वाले DP हो तो लगा लेना भाई जी,
सुना है कल देशभक्ति दिखने वाली तारीख हैं।

vo tirange vaale dp ho to laga lena bhaee jee,
suna hai kal deshabhakti dikhane vaalee taareekh hain.

desh bhakti shayari 2023

मरने के बाद भी जिसके नाम मे जान हैं,
ऐसे जाबाज़ सैनिक हमारे भारत की शान है।

marane ke baad bhee jisake naam me jaan hain,
aise jaabaaz sainik hamaare bhaarat kee shaan hai.

Desh Bhakti Shayari

अपनी आजादी को हम
हरगिज मिटा सकते नहीं,
सर कटा सकते हैं लेकिन
सर झुका सकते नहीं.

apanee aajaadee ko ham
haragij mita sakate nahin,
sar kata sakate hain lekin
sar jhuka sakate nahin.

हम आजाद हैं, ये आजादी कभी छिनने नहीं देंगे
तिरंगे की शान को हम कभी मिटने नहीं देंगे
कोई आंख भी उठाएगा जो हिंदुस्तान की तरफ
उन आंखों को फिर दुनिया देखने नहीं देंगे

ham aajaad hain, ye aajaadee kabhee chhinane nahin denge
tirange kee shaan ko ham kabhee mitane nahin denge
koee aankh bhee uthaega jo hindustaan kee taraph
un aankhon ko phir duniya dekhane nahin denge

है नमन उनको, जो यशकाय को अमरत्व देकर
इस जगत में शौर्य की जीवित कहानी हो गये हैं
है नमन उनको, जिनके सामने बौना हिमालय
जो धरा पर गिर पड़े, पर आसमानी हो गये हैं

hai naman unako, jo yashakaay ko amaratv dekar
is jagat mein shaury kee jeevit kahaanee ho gaye hain
hai naman unako, jinake saamane bauna himaalay
jo dhara par gir pade, par aasamaanee ho gaye hain

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *